आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप कैसे खोले? Artificial Jewllery Shop kaise Khole

आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप

Artificial Jewllery Shop kaise Khole: विश्व के अन्य देशों के मुकाबले भारत में आभूषण पहनने वाले लोगों की जनसंख्या सबसे ज्यादा है। भारत की महिलाएं विश्व में सबसे ज्यादा आभूषण पहनने वाली महिलाओं के अंतर्गत गिनी जाती है। आमतौर पर आभूषण सोने चांदी प्लैटिनम या हीरो से बना होता है। लोग शादी विवाह और पार्टी या समारोह के दौरान आभूषण पहनना पसंद करते हैं। इसके अलावा आभूषण पहनना भारतीय संस्कृति का बहुत पुराना हिस्सा है।

 वैसे तो आभूषण पहनने का शौक हर किसी व्यक्ति को होता है लेकिन भारत में सभी तरह के लोग रहते हैं जिनमें से कुछ अत्यंत धनी होते हैं और कुछ अत्यंत निर्धन होते हैं। जो लोग धनी होते हैं वह आमतौर पर असली सोने चांदी हीरे या प्लैटिनम से बनी आभूषण पहनते हैं। लेकिन जिन लोगों के पास ज्यादा पैसा उपलब्ध नहीं होता है वह आर्टिफिशियल आभूषण पहनते हैं।

हमारे देश में ज्यादातर महिलाएं ऐसी होती है जिनके पास असली सोने या चांदी के एक या दो आभूषण उपलब्ध होते हैं लेकिन शादी विवाह में महिलाओं को ज्यादा से ज्यादा आभूषण पहनने की आवश्यकता होती है। इसके कारण हम लोग आर्टिफिशिय आभूषण को पहनना पसंद करते हैं क्योंकि यह बहुत ही कम कीमत पर उपलब्ध होता है।

 आर्टिफिशियल आभूषण के प्रचलन को देखते हुए भारत में इसका बाजार तेजी से बढ़ता जा रहा है। आमतौर पर आर्टिफिशियल आभूषण और असली अमेज़न में ज्यादा फर्क नहीं होता है। वैसे लोग जो किसी नए व्यापार की तलाश में हैं या किसी बिजनेस को शुरू करना चाहते हैं उनके लिए आर्टिफिशियल आभूषण बनाने का बिजनेस एक अच्छा बिजनेस साबित हो सकता है। इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि आर्टिफिशियल आभूषण बनाने का बिजनेस कैसे शुरू करें और इसे शुरू करने के लिए किन-किन चीजों की आवश्यकता होती है। 

आर्टिफिशियल ज्वेलरी क्या होती है?

आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप

 

 

आर्टिफिशियल आभूषण असली आवश्यक जैसा ही दिखता है लेकिन इसे बनाने में सस्ते पदार्थों की इस्तेमाल की जाती है। जैसे-जैसे महंगाई बढ़ती जा रही है वैसे वैसे लोगों को असली धातु से बने आभूषण को खरीदने में समस्या आ रही है। आर्टिफिशियल आभूषण आमतौर पर तांबा स्टील और मोती जैसे कम कीमत वाले पदार्थों से बना होता है। यह दिखने में असली आभूषण जैसा ही होता है। अगर आप पहली नजर में देखेंगे तो असली आभूषण और आर्टिफिशियल आभूषण में फर्क नहीं कर पाएंगे।

आर्टिफिशियल आभूषण बिजनेस की शुरुआत कैसे करें?

आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप

 जैसा कि हम सभी जानते हैं कि किसी भी बिजनेस को शुरू करने के लिए हमारे पास क्षेत्र की नॉलेज होना जरूरी है। आर्टिफिशियल आभूषण बिजनेस की शुरुआत करने के लिए आपके पास नॉलेज और इन्वेस्टमेंट क्षमता होना जरूरी है। आजकल इस बिजनेस का प्रशिक्षण लेने के लिए कई इंस्टिट्यूट उपलब्ध है जिनके माध्यम से आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिजनेस का अनुभव प्राप्त कर सकते हैं। अगर आप बिना अनुभव के किसी बिजनेस को शुरुआत करते हैं तो इसमें आप सफल नहीं हो सकते हैं इसके अलावा आप अपने शहर या बाजार में उपलब्ध आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप में सर्वे भी कर सकते हैं जिससे आपको इस बिजनेस का अनुभव प्राप्त हो जाएगा।

आर्टिफिशियल आभूषण बिजनेस की शुरुआत करने के लिए कुछ अन्य बातों का भी ध्यान रखना होता है। यहां हमने कुछ मुख्य पॉइंट्स के बारे में वर्णन किया है जो इस बिजनेस को शुरुआत करने के लिए अति आवश्यक है।

आर्टिफिशियल आभूषण शॉप के लिए लोकेशन

किसी बिजनेस का सफल होना है इस बात पर भी निर्भर करता है कि आपका लोकेशन कैसा है। वैसे तो आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप को खोलने के लिए ज्यादा जगह की आवश्यकता नहीं होती है लेकिन वह इस बात पर निर्भर करता है कि आपका शॉप लोकेशन कहां पर है। आपको अपने बिजनेस को शुरुआत करने के लिए एक ऐसे लोकेशन की आवश्यकता होगी जहां जनसंख्या ज्यादा हो और लोगों का आना जाना ज्यादा हो। इसके अलावा आपका शॉप लोकेशन किसी मुख्य मार्केट में होना चाहिए जहां पर कपड़ों की दुकान कॉस्मेटिक शॉप और  ब्यूटी पार्लर इत्यादि उपलब्ध हो।

हम सभी जानते हैं कि ज्वेलरी ज्यादातर महिलाएं ही मानती है और ज्वेलरी शॉप में ज्यादातर महिलाएं ही शॉपिंग करती है। ऐसे में अगर आपका शॉप लोकेशन मुख्य बाजार में होगा तो आपके बिजनेस के सफल होने की चांस अत्यधिक होगी।

इन्वेस्टमेंट

वैसे लोग जो आर्टिफिशियल ज्वैलरी शॉप बिजनेस की शुरुआत करना चाहते हैं उनके मन में सबसे ज्यादा यह प्रश्न आता है कि इस बिजनेस को शुरुआत करने में कितना इन्वेस्टमेंट करना पड़ता है। आपको बता दें कि इस बिजनेस को शुरुआत करने के लिए आपको किसी बड़े मशीनों की आवश्यकता नहीं होती है। इस बिजनेस में आपको रो मटेरियल की आवश्यकता होगी और सबसे ज्यादा मेन पावर की आवश्यकता होगी क्योंकि आर्टिफिशियल ज्वेलरी को बनाने में ज्यादा मशीनों की आवश्यकता नहीं होती है इसे हाथों से ही बनाया जाता है।

ऐसे में अगर हम आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप को खोलने की कुल इन्वेस्टमेंट की बात करें तो शुरुआत में आपको ₹100000 से लेकर ₹200000 तक इन्वेस्टमेंट करना पड़ सकता है। इस बात पर भी निर्भर करता है कि आप अपने बिजनेस को किस लेवल पर शुरुआत करना चाहते हैं। इस बिजनेस को शुरुआत में आप छोटे लेवल पर शुरू कर सकते हैं और बिजनेस की सफलता को देखते हुए और ज्यादा इन्वेस्टमेंट करके अपने बिजनेस को बढ़ा सकते हैं।

आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप के लिए लाइसेंस

आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप खोलने के लिए किसी लाइसेंस की आवश्यकता नहीं होती है लेकिन किसी बिजनेस को शुरुआत करने के लिए आपके पास जीएसटी रजिस्ट्रेशन होना जरूरी है जो सभी बिजनेस के लिए भारत सरकार द्वारा अनिवार्य किया गया है। इसके अलावा आप खुद की ब्रांड वैल्यू बनाना चाहते हैं तो आपको ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन करवाना पड़ेगा। अगर आपके पास ट्रेडमार्क रजिस्ट्रेशन हो तो आप अपने बिजनेस को आसानी से चला सकते हैं और एक सफल बिजनेसमैन बन सकते हैं।

आर्टिफिशियल ज्वेलरी की पैकिंग

 अगर आपने आर्टिफिशियल ज्वेलरी की शॉपिंग की होगी तो आपने देखा होगा कि वह या तो पॉलिथीन में पैक किया जाता है या प्लास्टिक से बने पारदर्शी डिब्बों में टाइप किया जाता है। इसके अलावा अगर आप ज्यादा मात्रा में आर्टिफिशियल ज्वेलरी बनाते हैं और इसी छोटे छोटे दुकानदारों को बेचना चाहते हैं तो आपके कार्टन बॉक्स मौजूद होना चाहिए। आजकल सभी प्रकार के डिब्बों को बनाने वाली कंपनियां हर क्षेत्र में मौजूद है तो आप उन्हें अपनी जरूरत के अनुसार आर्डर दे सकते हैं और उनसे पैकिंग बॉक्स बनवा सकते हैं।

 आजकल किसी भी बिजनेस को शुरू करने में बहुत ज्यादा कंपटीशन है। अगर आप अपने बिजनेस में सफल होना चाहते हैं तो आपको अपने प्रोडक्ट की मार्केटिंग करनी होगी। क्योंकि अगर आप किसी प्रोडक्ट की मैन्युफैक्चरिंग बड़े स्तर पर कर रहे हैं लेकिन उसकी सेल नहीं हो पा रही है तो आपका बिजनेस सफल नहीं हो पाएगा। आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस में सबसे पहले आपको अपने प्रोडक्ट के बारे में नजदीकी ज्वेलरी एवं कॉस्मेटिक शॉप में जाकर अपने प्रोडक्ट और क्वालिटी के बारे में बता सकते हैं ताकि अगर उन्हें आपका सामान पसंद आएगा तो धीरे-धीरे आपके प्रोडक्ट की सेल बढ़ने लगेगी।

 आजकल बिजनेस को सफल बनाने का एक और तरीका है कि आप ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर अपने बिजनेस की मार्केटिंग कर सकते हैं। इसके लिए आप फ्लिपकार्ट और अमेजन जैसे ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर अपने प्रोडक्ट को बेच सकते हैं। इसके लिए सबसे पहले आपको ई-कॉमर्स प्लेटफार्म पर अपना अकाउंट बनाना होता है और आप अपने प्रोडक्ट को इकॉमर्स प्लेटफॉर्म पर लिस्ट कर सकते हैं।

आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस से होने वाला प्रॉफिट 

आर्टिफिशियल ज्वेलरी शॉप

अगर आप आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस को शुरुआत करने जा रहे हैं तो आपके मन में यह जरूर आता होगा कि इस बिजनेस के द्वारा हमें कितना प्रॉफिट होगा। आपको बता दें कि आजकल आर्टिफिशियल ज्वेलरी का मार्केट बहुत ज्यादा हो चुका है। ऐसे में अगर आप अपने प्रोडक्ट की क्वालिटी बेहतर रखते हैं और लोगों को उचित दाम में अपने प्रोडक्ट को सेल करते हैं तो आप ज्यादा पैसे कमा सकते हैं। आर्टिफिशियल ज्वेलरी को बेचने में आपको लागत का 20 से 30% प्रॉफिट देखने को मिल सकता है। वही किसी किसी प्रोडक्ट में आपको 50% तक प्रॉफिट देखने को मिल जाता है। अगर आप प्रति महीना 1000000 रुपए का प्रोडक्ट भेजते हैं तो आपको  200000 से लेकर ₹300000 तक प्रॉफिट हो सकता है।

आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण बातें

अगर आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो आपको कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए तभी आप अपने बिजनेस को बेहतर बना सकते हैं। यहां हमने कुछ पॉइंट्स के बारे में बताया है जो आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस में मददगार साबित हो सकता है।

  • आपको हमेशा याद याद रखना चाहिए कि आप जो भी प्रोडक्ट बना रहे हैं उसकी क्वालिटी बेहतर रखें ताकि लोगों को आप का प्रोडक्ट पसंद आए।
  •  बाजार में उपलब्ध नए नए प्रोडक्ट के बारे में हमेशा जानकारी प्राप्त करते रहे क्योंकि लोगों को नए-नए प्रकार के प्रोडक्ट ज्यादा पसंद आती हैं।
  •  जैसा कि आप जानते हैं कि आर्टिफिशियल ज्वेलरी में जिस कलर से पॉलिश किया जाता है वह बहुत जल्दी उतर जाता है ऐसा इसलिए होता है कि उनमें अच्छी क्वालिटी का पोलिस नहीं लगा होता है। आप हमेशा यह ध्यान रखें कि आर्टिफिशियल ज्वेलरी पर किया जाने वाला पॉलिश बेहतर क्वालिटी का हो।
  • आर्टिफिशियल ज्वेलरी ज्यादातर महिलाएं ही पहनती है। ऐसे में महिलाओं को ध्यान में रखकर ही अपने प्रोडक्ट को तैयार करें।
  • आर्टिफिशियल ज्वेलरी को खरीदने वाले लोग ज्यादातर साधारण होते हैं तो वैसे में आप हर वर्ग के लोगों को ध्यान में रखकर अपने प्रोडक्ट को तैयार करें।
  •  अपने प्रोडक्ट को ज्यादा दाम में ना बेचे क्योंकि इससे आपके ग्राहक धीरे धीरे कम होते चले जायेंगे।

Conclusion

इस आर्टिकल में हमने आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिजनेस से संबंधित जानकारियां दी है। इस आर्टिकल में हमने बताया है कि आप आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस को कैसे शुरू कर सकते हैं और इस बिजनेस को शुरू करने में किन-किन चीजों की आवश्यकता होती है। हम आशा करते हैं कि आपको आर्टिफिशियल ज्वेलरी से संबंधित सभी जानकारियां इस आर्टिकल में मिल गई होंगी। अगर आप इस आर्टिकल से जुड़ी कोई और जानकारी पाना चाहते हैं तो हमें कमेंट कर सकते हैं।

FAQ

Q. – आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस का फ्यूचर कैसा रहेगा?

ans. – आर्टिफिशियल ज्वैलरी बिजनेस का फ्यूचर बहुत बेहतर होगा क्योंकि आजकल लोग ज्यादातर आर्टिफिशियल ज्वेलरी पहनना पसंद करते हैं।

Q. – आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस को शुरू करने में कितना इन्वेस्टमेंट होता है?

 ans. – इस बिजनेस को शुरू करने में शुरुआत में आपको ₹100000 से लेकर ₹200000 तक इन्वेस्टमेंट करना पड़ सकता है।

Q. – आर्टिफिशियल ज्वेलरी बिज़नेस से प्रति महीना कितना प्रॉफिट हो सकता है?

ans. – इस बिजनेस से आपको अपने प्रोडक्ट पर 20% से 30% तक प्रॉफिट मार्जिन मिल सकता है। अगर आप प्रति महीना 1000000 रुपए का प्रोडक्ट सेल करते हैं तो आपको ₹200000 से लेकर ₹300000 तक प्रॉफिट हो सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *